ये भी कितनी अजीब बात है,,,,हर एक उजाला जानकारी के अभाव मैं किसी अन्धेरे से कम नही है, ….बेह्तरीन रचना गहरा विषय……….

कविता के बारे में - पहला भाग कविता के बारे में – पहला भाग शिवराम ( शिवराम द्वारा कविता पर यह महत्तवपूर्ण आलेख कुछ समय पूर्व ही लिखा गया था. १ अक्टूबर को उनके निधन पश्चात अभी हाल ही में यह ‘अलाव’ के नवंबर-दिसंबर’२०१० अंक में प्रकाशित हुआ है. यह आलेख इसकी लंबाई को देखते हुए यहां छः भागों में प्रस्तुत किया जा रहा है. प्रस्तुत है पहला भाग. ) आजकल कविताएं खूब लिखी जा रही हैं। यह आत्माभिव्यक्ति की प्रवृत्ति का विस्तार है और यह अच्छी बात है। काव्यकर्म, जो अत्यन्त सीमित दायरे में आर … Read More

via सृजन और सरोकार

Advertisements